Trending Now

बीकेयू में फूट के लिए टिकैत ने केंद्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार

भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने भारतीय किसान यूनियन में दो फूट के लिए केंद्र सरकार और राजनेताओं को भी जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने अपने इंटरनेट मीडिया अकाउंट से एक ट्वीट में लिखा है कि ‘सरकारों का काम किसान आंदोलन को तोड़ना, बांटना या कमजोर करना है’। ‘किसानों की आवाज को आगे बढ़ाना हमारा धर्म है। उनके अधिकारों की रक्षा करें। अंतिम सांस तक किसानों की लड़ाई जारी रहेगी’।

गौरतलब है कि स्वर्गीय महेंद्र सिंह टिकैत की 11वीं पुण्यतिथि पर 15 मई को भारतीय किसान संघ की एक महत्वपूर्ण बैठक लखनऊ में हुई थी, जिसमें भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक का गठन किया गया था। भारतीय किसान संघ अराजनैतिक के पहले से ही कामकाज पर नवगठित इकाई के अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने कहा कि वे लोग पंजीकृत नहीं हैं, जबकि हमने भारतीय किसान संघ अराजनैतिक को पंजीकृत किया है।

टिकैत बंधुओं को भारतीय किसान संघ में एक और विभाजन के कारण बड़ा झटका लगा है। भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने भी इस अवसर पर आयोजित प्रेस वार्ता में कहा कि राकेश टिकैत और नरेश टिकैत राजनीति से प्रेरित हैं। हम किसी राजनीतिक दल से नहीं जुड़ेंगे। हम महेंद्र सिंह टिकैत के बताए रास्ते पर चलेंगे, अपने सिद्धांतों के खिलाफ नहीं जाएंगे। राजेश सिंह चौहान ने कहा कि मैंने दोनों भाइयों के किसी भी राजनीतिक दल में शामिल होने का विरोध किया था। हमने कहा कि हम अराजनीतिक लोग हैं। हमारा काम किसान की समस्याओं पर लड़ना है। इस दौरान दोनों भाइयों ने हमें कई बार किसी पार्टी में शामिल होने के लिए कहा, लेकिन हम शामिल नहीं हुए। हम किसान आंदोलन में भी बराबर के भागीदार थे।अब भी अगर सरकार नहीं मानी तो हम किसानों की लड़ाई लड़ेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button