Education

100 मार्क्स के पेपर मे छात्र को दे दिए 151 मार्क्स :

साल के ‘बेस्ट यूनिवर्सिटी’ का नाम पता चल गया है. जहां एक तरफ़ छात्र कॉलेज या यूनिवर्सिटी परीक्षा में पास मार्क्स लाने के लिए निरंतर संघर्ष करते हैं वहीं इस यूनिवर्सिटी में छात्र को 100 नंबर के पेपर में 151 ( शगुन के अतिरिक्त 51 मार्क्स) दे दिए ! ये कारनामा कर दिखाया है बिहार के ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी (Lalit Narayan Mithila University, LNMU) ने. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ज़िला दरभंगा स्थित ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी में एक छात्र को 100 नंबर के पॉलिटिकल साइंस के पेपर में 151 नंबर मिले. बता दें कि ये यूनिवर्सिटी राज्य की टॉप यूनिवर्सिटीज़ में से एक है. वसंत पंचमी के दिन 1947 में इस विश्वविद्यालय की स्थापना हुई थी.

जिस छात्र के साथ ये कमाल हुआ है वो बीए ऑनर्स में है. मीडिया से बात करते हुए छात्र ने बताया कि पॉलिटिकल साइंस पेपर-4 के पार्ट-2 परीक्षा में उसे 151 नंबर मिले. छात्र ने बताया कि उसे अपने नंबर देखकर यकीन नहीं हो रहा था. हालांक ये प्रोविजनल मार्कशीट थी और उसने अधिकारियों से रिज़ल्ट दोबारा चेक करने का निवेदन किया. ये टाइपिंग एरर था और छात्र का रिज़ल्ट दोबारा जारी किया. प्रमोट होकर कथित छात्र अब थर्ड ईयर में पहुंच गया है.

ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी में ही एक अन्य छात्र को बीकॉम पार्ट 2 परीक्षा के अकाउंटिंग ऐंड फाइनेंस पेपर 4 में ज़ीरो मार्क्स मिले. अधिकारियों के पास शिकायत के बाद इस छात्र के भी रिज़ल्ट में संशोधन किया गया और उसने अगले ग्रेड में प्रमोट किया गया. इस छात्र की भी मार्कशीट में टाइपिंग एरर हो गया था.

बिहार के यूनिवर्सिटी और स्कूलों के लिए इस तरह की घटनाएं कोई नई बात नहीं है. 2018 में बिहार बोर्ड के कुछ छात्रों को 12वीं में 100% से ज़्यादा अंक मिले थे, वहीं कुछ को खाली मार्कशीट और कुछ छात्र जिन्होंने IIT क्लियर कर लिया था उन्हें 12वीं में फेल घोषित कर दिया गया था.

एक छात्र ने बताया था कि मैथ्स के थ्योरी पेपर में उसे 35 में 38 नंबर मिले थे. इसी छात्र को मैथ्स ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर में 35 में 37 अंक मिले थे. ऐसी ही दास्तां पूर्व चंपारण के एक छात्र ने सुनाई थी जिसे थ्योरी पेपर में 35 में 38 और ऑब्जेक्टिव पेपर में 35 में 40 नंबर मिले थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button