World News

गाड़ियों से महंगी उनकी नम्बर प्लेट |

ब्रिटेन :- ब्रिटेन की पहली नम्बर प्लेट डीवाई 1 ,नवम्बर 1903 में हेस्टिंग में जारी की गई थी।कस्टमाइज नंबर प्लेट का चलन अमेरीका में 1931 सन् में शुरू हुआ था। लोग अपने पसंदीदा अक्षर व नम्बर चुन सकते थे और अपनी नम्बर / लाईसेन्स प्लेट को अलग बना सकते थे। उस दौर में इन्हें वेनिटि प्लेटस कहा जाता था।

आज फिर दुनिया भर में इसकी चर्चा हैं क्योंकि इस माह निजी नंबर प्लेटों की सरकारी नीलामी हो रही हैं। विक्रेताओं का कहना है, नंबर प्लेटस के दाम बढ़ रहे हैं। क्रिप्टोकरेंसी का संकेत देने वाली लाईसेन्स प्लेटें हैं नई पसंद ।



कुछ प्लेटस जैसे:-

1)53NGH : यह पहले स्थान पर आई और इसकी किमत ₹ साठ लाख (60 Lakhs rupee) में बिका ,क्योंकि यह सिंह नाम जैसा दिखाई देता है

2)8888 : इस नम्बर प्लेट ने दूसरा स्थान प्राप्त किया है । जो ₹42 लाख में चीनी व्यक्ति ने खरीदी ,क्योंकि इस अंक को वे संपत्ति और सौभाग्य मानते हैं।

3) B0T70X : इसकी किमत ₹10 लाख |

4) LDY 8055 : ये ₹3 लाख में बिकी |



एजेन्सी कीमती प्लेटों को नीलामी से बचाते हैं तथा एजेन्सी अश्लील व राजनीतिक रूप से संवेदनशील प्लेटें बेचने से बचती है।

यूक्रेन पर रूस के हमले को देखते हुए इस मार क्रीमिया का आभास देने वाली एक प्लेट की नीलामी रोक दी गई ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button