Trending Now

दिल्ली पुलिस के फर्जी एसीपी ने की पत्रकार से बदसलूकी

दिल्ली: राजधानी दिल्ली में सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी हमेशा अपने स्वास्थ्य मॉडल के गुणगान करती है। अगर बात जमीनी हकीकत की करें तो विकास केवल विज्ञापन पर ही नजर आता है। द्वारका सेक्टर 17 में सरकारी स्वास्थ्य केंद्र की हालत कुछ ऐसा ही है। बीते कुछ दिनों से लगातार मरीजों द्वारा डॉक्टरों की गैर मौजूदगी की शिकायत आ रही थी। स्थानीय लोगों के मुताबिक डॉक्टर कभी आते भी थे, तो समय से नहीं आते थे। इसके अलावा डॉक्टरों द्वारा दवाई लेने के लिए बाहर भेजने का मामला भी सामने आया है

आपको बता दें कि हाल फिलहाल में दिल्ली में डेंगू के बढ़ते केसों के कारण सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में स्थिति गंभीरता से होनी चाहिए। लेकिन द्वारका सेक्टर 17 में स्थिति इसके उलट है। तो वहीं स्थानीय पत्रकार अभिषेक तिवारी द्वारा जब स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया तो उन्हें रिपोर्टिंग करने से रोका गया। तभी स्वास्थ्य केंद्र में कथित तौर पर अपने आप को एसपी बताने वाले सत्यवीर सिंह ने अभिषेक तिवारी को रिपोर्टिंग करने से रोकने के लिए माइक छीन लिया तथा उन्हें कमरे में बंद करने की कोशिश की।

पत्रकार अभिषेक तिवारी ने बताया कि स्वास्थ्य केंद्र में ढंग से काम ना करने के कारण जब उनसे पूछताछ की तो वही एक व्यक्ति ने खुद को दिल्ली पुलिस में ACP बताकर मेरा माइक छीनने की कोशिश की और साथ ही धमकी भरे अंदाज में मुझे अंदर कराने की भी बात कही। मैं दिल्ली पुलिस से अनुरोध करता हूं कि इस पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए।

जाहिर सी बात है स्वास्थ्य मसले पर दिल्ली पुलिस का कोई भी अधिकारी किसी मीडिया कर्मी से इस तरह से बर्ताव नहीं करता। लेकिन अगर कोई व्यक्ति अपने आपको फर्जी एसीपी बताकर कोई कार्य करता है तो यह दिल्ली पुलिस की छवि के साथ खिलवाड़ ही समझ आता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button